वैष्णो देवी मंदिर के लिए वैकल्पिक रास्ता खुला

वैष्णो देवी मंदिर के लिए 7 किलोमीटर लंबे वैकल्पिक मार्ग को बीते कल रविवार (13 मई) को श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी औपचारिक रूप से 19 मई को इस मार्ग का शुभारंभ करेंगे। इस मार्ग में श्रद्धालुओं की सुविधा के कई इंतजाम किए गए हैं। इस मार्ग को बनाने में करीब ₹80 करोड़ की लागत आई है।

जम्मू और कश्मीर के राज्यपाल और श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड (एस॰एम॰वी॰एस॰बी॰) के अध्यक्ष एन॰एन॰ वोहरा ने कल इस मार्ग से यात्रा की और तैयारियों का जायजा लिया। फरवरी, 2011 में बाणगंगा से अर्द्धकुवारी के बीच वैकल्पिक मार्ग निर्माण करने का प्रस्ताव मंजूर किया गया था।

श्राइन बोर्ड के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी अंशुल गर्ग ने बताया कि ₹80 करोड़ की लागत से सात वर्ष में बने इस मार्ग को रविवार दोपहर श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया गया। प्रधानमंत्री 19 मई को औपचारिक रूप से इसका शुभारंभ करेंगे। उन्होंने कहा कि रास्ता खोलने के पहले हवन किया गया। इस मार्ग में आरामदायक ढाल है और विभिन्न सुविधाएं हैं। बाणगंगा से अर्द्धकुवारी तक 7 किलोमीटर का यह मार्ग 6 मीटर चौड़ा है। तारकोट मार्ग में 2 भोजानालय , 4 व्यू प्वाईंट और 7 शौचालय ब्लॉक बनाए गए हैं।

About सीमा संघोष ब्यूरो

View all posts by सीमा संघोष ब्यूरो →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *