चक्रवाती तूफान ‘सागर’ का असर होगा भारत के 20 राज्यों में

मॉनसून आने के पहले चक्रवातीय तूफान ‘सागर’ भारत में तबाही मचाने तेजी से चला आ रहा है। चक्रवातीय तूफान ‘सागर’ पश्चिम से दक्षिण पश्चिम की तरफ करीब 18 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से बढ़ रहा है, लेकिन इसके साथ आने वाली हवाएँ 80 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से बढ़ रही है। माना जा रहा है कि अगले 12 घंटों तक सागर एक चक्रवाती तूफान बना रहेगा। वहीं, हवाओं की गति और ज्यादा बढ़ने की उम्मीद है।

मौसम विभाग के अनुसार, यह तूफान आधी रात को पश्चिम और दक्षिण पश्चिम की तरफ बढ़ेगा। मौसम विभाग ने असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, झारखंड, बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, तटीय आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, लक्षद्वीप के कुछ इलाकों में तेज हवा के साथ आंधी का अलर्ट जारी किया है।

मौसम विभाग के अनुसार, यह तूफान आधी रात को पश्चिम और दक्षिण पश्चिम की तरफ बढ़ेगा। इसके अलावा, विभाग ने चेतावनी दी है कि उत्तरी उत्तर प्रदेश में शनिवार को तेज हवाएँ और तूफान आ सकता है। कहा जा रहा है कि तूफान की वजह से यूपी के सिद्धार्थनगर, कुशीनगर औऱ महाराजगंज प्रभावित होंगे।

विभाग ने अपने मौसम पूर्वानुमान में कहा है कि यूपी के उत्तरी इलाकों में बारिश और तूफान की संभावना है। मौसम विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिकों का कहना है कि अक्टूबर से मार्च के बीच पश्चिमी हिमालयी क्षेत्रों और उत्तरी मैदानी इलाकों में पश्चिमी विक्षोभ एक सामान्य घटना है। हालांकि, जो चीज असामान्य है वह इसका अप्रैल से मई के बीच होना है।

About सीमा संघोष ब्यूरो

View all posts by सीमा संघोष ब्यूरो →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *