केरला चर्च रेप केस: आरोपी बिशप के खिलाफ गवाही देने वाले फादर कट्टूथारा की मौत

भाई का आरोप : बिशप फ़्रैंको मुलक्कल के खिलाफ खड़ा होना मौत का कारण, आरोपी को नहीं मिलनी चाहिये थी जमानत

बहुचर्चित केरला चर्च नन रेप केस के मुख्य गवाह फादर कुरियाकोज़ कट्टूथारा कल जलंधर के भोगपुर में सेंट पॉल स्कूल स्थित अपने कमरे में मृत पाये गये। 62 वर्षीय कुरियाकोज़ इसी मिशनरी विद्यालय में नियुक्त थे। उनके शरीर पर कोई भी चोट के निशान नहीं पाये गया है, आशंका है कि मौत से पूर्व उन्होंने उल्टी की थी। पुलिस हत्या और आत्महत्या दोनों ही पहलुओं से जाँच कर रही है।

उल्लेखनीय है कि फादर कुरियाकोज़ ने पहले ही रेप आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल और चर्च के अन्य पदाधिकारियों के खिलाफ उत्पीड़न करने का आरोप लगाते हुये पुलिस को शिकायत दर्ज करवायी थी। वह पहले भी यह बयान भी दे चुके थे कि उन्हें बिशप के खिलाफ खड़े होने पर धमकियाँ मिल रही हैं और अपनी ही संस्था में भारी दबाव का सामना करना पड़ रहा है।

इस बीच फादर कुरियाकोज़ के भाई ने आरोप लगाया है कि उनकी मौत बिशप केस में गवाही देने के कारण ही हुई है। भाई ने कहा ‘बिशप मुलक्कल बहुत ही प्रभावशाली व्यक्ति है, ऐसे में इतने जघन्य अपराध में आरोपी को जमानत मिलने से केस में उसके खिलाफ खड़े मुख्य गवाह फादर कुरियाकोज़ भारी दबाव का सामना कर रहे थे’।

About सीमा संघोष ब्यूरो

View all posts by सीमा संघोष ब्यूरो →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *