शौर्य की गाथा है ‘ऑपरेशन विजय’, जानें कैसे देश के जवानों ने दुश्मनों को चटाई धूल

शौर्य की गाथा है ऑपरेशन विजय, जानें कैसे देश के जवानों ने दुश्मनों को चटाई धूल

हर साल 26 जुलाई ऑपरेशन विजय दिवस मनाया जाता है। इस दिन कारगिल युद्ध में शहीद होने वाले 527 सैनकों को श्रद्धा सुमन अर्पित कर याद किया जाता है। यह दिन सैनिकों की वीरता और पराक्रम के लिए जाना जाता है।
बात सन 1999 की है, जब पाकिस्तान ने एक सुनियोजित ढंग से कारगिल में हमला बोल दिया। उसका उद्देश्य केवल और केवल लद्दाख में दहशत फैलाकर कश्मीर से उसका सपंर्क तोड़ना था।
हालांकि, इस उद्देश्य में पाकिस्तान को सफलता नहीं मिली और पाकिस्तान की करारी शिकस्त हुई। पाकिस्तान ने इस नाकाम साजिश को “ऑपरेशन बद्र” नाम दिया था।
उस समय तत्कालीन प्रधानमंत्री दिवंगत अटल बिहारी वाजपेयी ने 2 लाख सैनिकों को सीमा पर भेजने का आदेश दिया। इसके बाद 2 लाख सैनिक एक साथ दुश्मनों पर काल बनकर टूट पड़े और दुश्मनों को धूल चटा दी। 26 जुलाई, 1999 को भारतीय सैनिकों ने विजय का परचम कारगिल में फहराया… जारी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *